दान रूपी आभूषण से अलंकृत मनुष्य परोपकार के पुण्य का भागी होता है तथा उनके द्वारा किया जाने वाला दान लोकहित में जरूरतमंदों के लिए वरदान है।

Þeer ceele=íe³ee mesJee v³eeme

efMe#ee ‡ mJeemL³e ‡ He³ee&JejCe ‡ meceepe keÀu³eeCe ‡ meceepe GlLeeve ‡ v³eeef³ekeÀ ‡ DeeO³eeeflcekeÀ ‡ meebmkeÀ=eflekeÀ

www.000webhost.com